Diwali Essay in Hindi – दिवाली पर निबंध | दिवाली का महत्व


Diwali Essay in Hindi आपको इस पोस्ट में पढ़ने मिलेगा। दिवाली पर निबंध में आपको दिवाली का महत्व और भारत में दिवाली को कौन-कौन मानते है। यह सब देखेंगे।

बच्चों को दीवाली त्यौहार बहुत पसंद है। दिवाली के त्यौहार के समय लगभग एक महीने के लिए स्कूल और कॉलेज क्यों बंद रहते हैं।

 

Diwali Essay in Hindi

Image Credit: Pixabay

 

दिवाली पर निबंध – Diwali Essay in Hindi

 

दीपावली का त्यौहार हर साल कार्तिक माह की अमावस्या को मनाया जाता है। यह हिंदुओं का एक बड़ा धार्मिक-सामाजिक त्योहार है।

 

कहा जाता है कि इस दिन भगवान श्री रामचंद्रजी 14 वर्ष के वनवास के बाद अयोध्या लौटे थे।

इस खुशी में लोगों ने दीप जलाकर उनका स्वागत किया।

 

दिवाली का अर्थ है – दीपों का कलार। दिवाली के कुछ दिनों पहले लोग घर-द्वार की सपाई करते है। चारो और सफाई दिखाई देती हैं।

 

नए कपड़े खरीदते हैं। मिठाइयाँ, पटाके, दिए आदि की दुकानों सजने लगती हैं। दीपावली का त्यौहार ५ दिन तक चलता हैं।

 

पहला दिन धनतेरस का होता हैं। इस दिन रात को १३ दिए जलाए जाते हैं। गौ माता की पूजा की जाती हैं।

 

दूसरे दिन चौदस को दिन निकलने से पहले उठकर लोग स्नान करते हैं। फिर पूजा करते हैं।

 

तिसरा दिन बड़ा उस्ताह का होता हैं। कार्तिक की अमावस्या की रात सब तरफ सफाई और सजावट तथा हजारों दीपों की रोशनी की जाती हैं।

 

लक्ष्मी की पूजा की जाती हैं। उस दिन फल, मिठाई का प्रसाद चढ़ाते हैं। सब नए कपड़े पहनते हैं।

 

भारत या फिर अन्य देशों में भी दिवाली का त्यौहार पुरे धूम-धाम से मानते हैं।

 

स्कूल और कॉलेज में बच्चों को दिवाली पर निबंध, दिवाली का क्या महत्व हैं, दिवाली क्यों मनाई जताई हैं, दीपावली पर १० लाइन, आदि का बच्चोंसे पूछते हैं।

 

दिवाली पर स्कूल और कॉलेज में कम्पीटीशन भी होता हैं।

 

दिवाली में स्कूल, कॉलेज, बैंक, और ऑफिस बंद रहते हैं। इसके लिए बच्चे दिवाली को बहोत ही ज्यादा पसंद करते हैं।

 

यह त्यौहार साल में एक ही बार आता हैं। वो भी अक्टूबर या फिर नवंबर।

 

दीपावली का निबंध (200-300 Words)

 

भारत त्योहारों की भूमि के रूप में जाने वाला महान देश हैं। यहाँ प्रसिद्ध और सबसे मनाया जाने वाले त्योहारों में से एक दिवाली या दीपावली हैं।

 

दिवाली हिन्दुओं का एक महत्वपूर्ण त्यौहार हैं, जो देश भर में और साथ ही देश के बाहर हर साल मनाया जा रहा हैं।

 

यह रोशनी का त्यौहार हैं, जो की लक्ष्मी के घर आने और बुराई से सचाई की जित का प्रतिक हैं।

 

यह तब मनाया जाता हैं, जब १४ वर्ष के वनवास के बाद भगवान राम, सीता और लक्ष्मण अयोद्या लौटे थे।

 

और अयोध्या के लोगों ने उनका तेल का दीपक जलाकर उनका स्वागत किया था। यही कारन हैं की इसे “प्रकाश का महोस्तव” कहा जाता हैं।

 

इस दिन भगवान राम ने लंका के राक्षस राजा, रावण को मर डाला ताकि पृथ्वी को बुरी गतिविधियों से बचाया जा सके।

 

यह हिन्दू कैलेंडर द्वारा हर साल कार्तिक के महीने की अमावस्या पर मनाया जाता हैं।

दिवाली के दिन हर कोई खुश होता हैं और एक-दूसरे को बधाई देता हैं।

 

लक्ष्मी का स्वागत करने के लिए लोग अपने घरों को सजाते हैं, और दीपक जलाकर लक्ष्मी का स्वागत करते हैं।

 

दिपाली Essay in Hindi for Child

 

  1. दिवाली/ दीपावली का अर्थ हैं, दीपों का अवनि यानि पंक्ति।
  2. दिवाली भारत का एक जाना-माना प्रसिद्ध त्यौहार हैं।
  3. दिवाली का त्यौहार कार्तिक अमावस्या को मनाया जाता हैं।
  4. उसे रोशनी का त्यौहार भी कहा जाता हैं। यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई का प्रतिक हैं।
  5. दीपावली के कुछ समय पहले से ही लोग घरों की साफ सफाई करते हैं।
  6. दिवाली के दिन लोग घरों को, दुकानों को, और अन्य सभी इमरतियों को दिए और रंगों से सजाते हैं।
  7. इस दिन लोग नए वस्र पहनते हैं। दिवाली के हर दिन माता लक्ष्मी की पूजा होती हैं।
  8. सब लोग दोस्तों और परिवार से मिलते हैं और मिठाई बाटते हैं।
  9. इस दिन लोग रात को आतिशबाजी करते हैं।
  10. दिवाली का त्यौहार “असत्य पर विजय” का प्रतिक हैं।

 

10 लाइन में दिवाली पर निबंध

 

  1. दिवाली हिन्दू धर्म का त्यौहार हैं।
  2. यह ठीक दहशर के ठीक २० दिन बाद आता हैं।
  3. दिवाली हर साल ऑक्टूबर या नवंबर में आता हैं।
  4. दीपावली के पहले से ही हिन्दू लोग अपने घरों को सजाते हैं।
  5. दीपावली के लिए लोग नए कपड़े खरीदते हैं।
  6. घर में मिठाई बनाई जाती हैं।
  7. गरीबो में मिठाई और नए कपड़े वितरित किये जाते हैं।
  8. दीपावली से पहले धनतेरस आता हैं।
  9. लोग धनतेरस पर गहने खरीदते हैं।
  10. बच्चे घर में छोटे मिट्टी के बनाते हैं।
  11. सब लोग इस दिन पटाके जलाते हैं।

 

FAQ – दिवाली पर निबंध 

 
1. दीपावली के कितने नाम है?

दीपावली को दिवाली कहते हैं। और उसके अलग-अलग नाम देखे तो उसको रोशनी का त्यौहार,दीपों का कलार नाम हैं।

2. दिवाली कौन मनाता हैं?

दिवाली हिंदुओंका त्यौहार हैं। लेकिन भारत में दिवाली सब महते हैं।

3. दिवाली कब हैं?

दिवाली कार्तिक अमावस्या के टाइम आती हैं। यानि की ऑक्टूबर से लेकर नवंबर के बिच में आती हैं।

 

आपको Diwali Essay in Hindi, दिवाली पर निबंध, दिवाली का महत्व, Diwali Essay in Hindi for Child,Long-Short Essay on Diwali in Hindi आदि,  कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताये।

 

आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों में भी शेयर कर सकते हैं।

 

इसे भी पढ़े :

क्रिसमस पर निबंध


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *